महिला ने पुलिसकर्मी पर लगाया शोषण



रिपोर्ट---  विष्णु पाण्डेय




जालौन में महिला सुरक्षा पर दम भरने वाली पुलिस पर ही महिला के साथ शोषण के गंभीर आरोप लग रहे है और पीड़ित महिला पुलिस को ही कटघरे में खड़ा कर रही है और अपने ऊपर हुये अत्याचार का इंसाफ मांगने के लिये पुलिस अधीक्षक व जिलाधिकारी के पास जाकर न्याय की गुहार लगा रही है।

मामला उरई कोतवाली क्षेत्र के नगर उरई का है जहाँ पर आज एक लॉ की छात्रा ने एक सिपाही पर सनसनीखेज घर मे घुसकर मारपीट व बलात्कार का आरोप लगाते हुये जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक को प्रार्थना पत्र देकर न्याय की गुहार लगाई है वही मामले की शिकायत करने पर सी ओ सदर कोरोना का हबाला देते हुये जांच में देरी की बात कर रहे है जिसको व्हाट्सएप चैट भी शोशल मीडिया पर वायरल हो रही है।
पीड़ित छात्रा ने बताया कि सिपाही राजपाल सिंह भदौरिया ने उसको शादी का झांसा देकर कई महीनों तक उसके साथ बलात्कार किया और जब उसने शादी करने के लिये कहा तो उसने मेरी मांग भरकर शादी कर ली और इसी शादी का झांसा देकर वह कई महीनों तक उसके साथ बलात्कार करता रहा लेकिन जब मेरे घर वालो को इसके बारे में पता चला तो उन्होंने इसका विरोध किया और रीतिरिवाज के साथ शादी करने को कहा जब इस बारे में मैंने राजपाल को बताया तो उसने शादी से साफ मना कर दिया इसके बाद जब मैंने पुलिस अधीक्षक से शिकायत की तो कम्प्रोमाइज करके उसने उरई में एक कमरा किराये पर लेकर मुझे रख दिया और लगातार शोषण करता रहा लेकिन इसके बाद भी इसने मुझसे शादी करने से इनकार कर दिया और मोबाइल बन्द करके गायब हो गया जब हमने मामले की शिकायत उरई कोतवाली पुलिस व सीओ से की तो इसने कल कमरे में आकर मेरे साथ मारपीट की और जबरजस्ती बलात्कार किया और पुलिस से शिकायत करने पर जान से मारने की धमकी भी दी।

वही इस मामले में अपर पुलिस अधीक्षक डॉ अबधेश सिंह का कहना है कि मामला संज्ञान में आया है और पूरे मामले की जांच की जा रही है जाँच में जो सत्यता पाई जाएगी उसी के हिसाब से  कार्यवाही की जायेगी।